छत्तीसगढ़ी जनउला

(chhattisgarhi paheliya)

chhattisgarhi janaula (chhattisgarhi paheliya)

छत्तीसगढ़ी जनउला

(chhattisgarhi paheliya)

ओमनाथ के बारी म,

सोमनाथ के काँटा,

एक फूल फूले,

त पचीस पेंड़ भाँटा।

 

छत्तीसगढ़ी जनउला

(chhattisgarhi paheliya)

लाल मुँह के छोकरी ,
हरियर फीता गथाये।
निकले कहु बाजार में,
ता हाथों- हाथ बचाये।

का हरे बताओ ?

chhattisgarhi janaula (chhattisgarhi paheliya)

chhattisgarhi janaula (chhattisgarhi paheliya)

छत्तीसगढ़ी जनउला

(chhattisgarhi paheliya)

बाप अउ बेटा के नाम एके,

नाती के नाम औरे ।

ए जनउला ल जानबे,

तब मुहँ म डारबे कौंरे।।

का हरे बताओ ?

छत्तीसगढ़ी जनउला

(chhattisgarhi paheliya)

chhattisgarhi janaula ( chhattisgarhi paheliya)

कारी गाय कलिन्दर खाय, दुहते जाय पनहाते जाय?

का हरे बताओ ?